मोदी

देवघर में मोदी-मोदी

आज प्रधानमंत्री मोदी झारखण्ड के देवघर में पहुँचने वाले हैं। प्रधानमंत्री झारखण्ड में एक एम्स और एक हवाई अड्डे का लोकार्पण करेंगेे। दोनों का निर्माण लगभग चार साल की अवधि में किया गया है। प्रधानमंत्री मोदी देश में एम्स का जाल बिछा देना चाहते हैं। ताकि लोगों को अच्छी चिकित्सा सुविधा का लाभ मिल सके। प्रधानमंत्री एम्स के साथ-साथ बड़े-बड़े हवाई अड्डों का निर्माण भी करवा रहे हैं। ताकि आवागमन में समय की बचत की जा सके। ये दोनों योजनाएं देश का कायाकल्प कर सकती हैं। अब तो उत्तर प्रदेश में बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे भी बन कर तैयार हो गया है। ये साक्ष्य स्पष्ट कर रहे हैं कि देश में तेजी से आधारभूत सुविधाओं का विकास हो रहा है। इन सुविधाओं से ही देश आगे बढ़ेगा। लेकिन विपक्ष को ये विकास कार्य दिखाई नहीं दे रहे हैं। वे तो कह रहे हैं कि प्रधानमंत्री मोदी देश को श्रीलंका बनाने पर तुले हैं। मोदी विरोधियों का स्तर बहुत नीचे जा चुका है। वे पागल हो चुके हैं। वे जीवन में पहली बार किसी प्रधानमंत्री को इतने विकास कार्य करते देख रहे हैं। इसलिए उनका पगलाना स्वाभाविक है। बहरहाल, देवघर की नारियाँ दीपक जलाकर मोदी जी का स्वागत कर रही हैं। बीती रात उन्होंने एक लाख दिये जलाए और देवघर को दीपकों से जगमगा दिया। देवघर के लोगों में प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए उत्साह देखते ही बनता है। प्रधानमंत्री बिना किसी भेदभाव के पूरे देश का विकास कर रहे हैं। वे विकास के मामले में पक्ष और विपक्ष नहीं देखते। देवघर के बाद प्रधानमंत्री बिहार भी जाएंगे। प्रधानमंत्री दोनों राज्यों में विकास के कई कार्यक्रमों का उदघाटन भी करेंगे। प्रधानमंत्री ने नए संसद भवन के सामने सारनाथ के चार शेरों का एक विशाल स्तम्भ स्थापित करवा दिया है। सारनाथ का यह अशोक स्तम्भ प्रगति का सूचक है। यह स्तम्भ वीरता और परिश्रम का भी सूचक है। विपक्षियों को तो यह काम भी रास नहीं आया। अब भारत में विपक्ष का मतलब हो गया है कि हर विकास कार्य को बौना साबित करना। हर विकास कार्य में कमियाँ निकालना। शायद ही देश ने इतना दिशाहीन विपक्ष कभी देखा हो जो इस समय है। कुल मिलाकर प्रधानमंत्री मोदी ने विपक्ष को अस्त्र-शस्त्र विहीन कर दिया है। विपक्षियों की यह दुर्दशा वाकई दयनीय है।

 

 

 

 

read also….

Check Also

कारगिल विजय दिवस का उल्लास

-नेशनल वार्ता ब्यूरो- आज 26 जुलाई के दिन भारतीय वीरों ने कारगिल क्षेत्र पर विजय …