लापरवाही पर सख्त कार्रवाई करने के लोक निर्माण मंत्री ने दिए निर्देश

लोक निर्माण विभाग की समीक्षा बैठक एवं गुणवत्ता परीक्षण कार्यक्रम में शामिल हुए श्री ताम्रध्वज साहू

रायपुर, जनसंपर्क विभाग । लोक निर्माण विभाग मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू की अघ्यक्षता में आज यहां दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में विभागीय कार्यों की समीक्षा बैठक एवं गुणवता परीक्षण कार्यक्रम संपन्न हुआ। इसमें मंत्री श्री साहू ने अभियंताओं एवं विभागीय अधिकारियों को कार्यों का गुणवत्ता के साथ समय सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंनेे कहा कि कार्यों में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों एवं कर्मचारियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। कार्यक्रम में उत्कृष्ट कार्य करने वालें अभियंताओं को मंत्री श्री साहू ने प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इस दौरान संसदीय सचिव श्री विकास उपाध्याय, श्री चिंतामणि महाराज, लोकनिर्माण विभाग के सचिव श्री सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी, छत्तीसगढ़ सड़क विकास निगम लिमिटेड के एम.डी श्री हिमशिखर गुप्ता एवं प्रमुख अभियंता श्री विजय भत्तपहरी मौजूद थे। लोक निर्माण विभाग के मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने सभागार मे मौजूद समस्त अभियंताओं को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की विशेष पहल पर जन सुविधाओं को ध्यान में रखकर विभाग को निर्माण कार्यों के लिए समुचित बजट दिया गया है। इसी वजह से पिछले तीन सालों में विभाग के समस्त निर्माण कार्य निरंतर गति से हो रहे हैं। उन्होंने कोरोना काल के दौरान विभागीय कर्मचारियों के द्वारा अस्पताल व गैस पाइप लाइन सहित अधोसंरचना  निर्माण कार्य तेजी से किए जाने के लिए तारीफ की और कहा कि इस दौरान कई कर्मचारी संक्रमित भी हुए लेकिन कार्य में बाधा उत्पन्न नहीं हुई। मंत्री श्री साहू ने आगे कहा कि निर्माण कार्यो की गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जाएगा। राशि का पूरा सदुपयोग होना चाहिए, जितना काम उतनी ही राशि का प्राक्कलन बनाए। अपने क्षेत्र में जो महत्वपूर्ण काम है उसे प्रमुखता के साथ करें। उन्होंने विभाग को निर्देशित किया कि प्राक्कलन इस तरह से बनाए कि रिवाइज प्राकल्लन बनाने से स्थिति निर्मित ना हो। इसके साथ ही उन्होंने भवन निर्माण कार्य को समय पर हैंडओवर करने, टर्निंग पाइंट व ब्लैक स्पॉट को चिन्हित कर उस पर त्वरित रूप से कार्य करने के निर्देश दिए। मंत्री श्री साहू ने स्वीकृत कामों को बरसात के पूर्व पूर्ण करने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने कहा कि ट्रैफिक जाम की स्थिति निर्मित ना हो यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए। मंत्री श्री साहू ने भू-अर्जन प्रकरण, झाड़कटाई की अनुमति मिलने आदि कामों जिससे कार्यो में विलम्ब की स्थिति निर्मित होती है उस पर राजस्व अधिकारियों एवं सबंधित विभाग के अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर काम करने के निर्देश दिए। मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने मुख्यमंत्री सुगम सड़क योजना के तहत चल रहे कार्यों को समय सीमा के साथ ही गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने के लिए निर्देशित किया। कार्यक्रम में संसदीय सचिव श्री विकास उपाध्याय एवं श्री चिंतामणि महाराज ने भी अपने विचार रखे। सचिव श्री सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी एवं प्रमुख अभियंता श्री भत्तपहरी ने अभियंताओं को महत्वपूर्ण सुझाव दिए। कार्यक्रम में मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने श्री उमेश पटेल उपअभियंता रायगढ़, मंजू पटेल उपअभियंता रायगढ़, श्री राजीव नशीने कार्यपालन अभियंता, श्री राजेश बघेल उपअभियंता जगदलपुर, श्री सुधीर बघेल उपअभियंता जगदलपुर, श्री आर.के. वर्मा अनुविभागीय अधिकारी जगदलपुर, श्री आर. के. गुरू कार्यपालन अभियंता जगदलपुर, श्री सियाराम दुग्गे उपअभियंता सेतु संभाग जगदलपुर, श्री करण संगरीला अनुविभागीय अधिकारी सेतु अनुविभाग जगदलपुर, श्री आर. एम. शेख कार्यपालन अभियंता सेतु संभाग जगदलपुर, श्री नवीन वर्मा उपअभियंता पाटन, श्री आर. के. शुक्ला अनुविभागीय अधिकारी पाटन, श्री सी. एस. ओगरे अनुविभागीय अधिकारी दुर्ग, श्री शत्रुघन देवांगन उपअभियंता खैरागढ़, श्री संजय देवांगन अनुविभागीय अधिकारी खैरागढ़ एवं श्री अरविंद चौहान कार्यपालन अभियंता खैरागढ़ को उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया। इस अवसर पर लोकनिर्माण विभाग के मुख्य अभियंता सहित विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे।

Check Also

छत्तीसगढ़ राज्य का भुइयां कार्यक्रम को मिला राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कार

-प्रतिष्ठित आईएमसी डिजिटल अवार्ड्स 2021 से किया गया सम्मानित -मुख्यमंत्री एवं राजस्व मंत्री ने दी …