Breaking News

राज्य में १४ लाख किसानों को ५७३८ करोड़ रूपए का कृषि ऋण वितरित

-उद्यानिकी, दलहन, तिलहन एवं मिलेट्स के लिए १७ हजार से अधिक किसानों को ७० करोड़ रूपए का ऋण वितरित

-सहकारी बैंकों के कार्यकलापों की समीक्षा

रायपुर (जनसंपर्क विभाग)। राज्य में सहकारी बैंकों के माध्यम से अब तक १४ लाख किसानों को ५ हजार ७३८ करोड़ रूपए का ब्याज मुक्त कृषि ऋण वितरित किया जा चुका है। धान के बदले अन्य फसलों जैसे उद्यानिकी, दलहन-तिलहन एवं मिलेट्स के लिए १७ हजार ८१८ किसानों को ७० करोड़ रूपए का ऋण वितरण भी किया जा चुका है। अपेक्स बैंक के अध्यक्ष बैजनाथ चन्द्राकर की अध्यक्षता में आयोजित समीक्षा बैठक में यह जानकारी सहकारी बैंकों के अधिकारियों ने दी। अपेक्स बैंक के अध्यक्ष  बैजनाथ चन्द्राकर ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के द्वारा विगत ४ वर्षों में किसानों के हित में अनेक क्रांतिकारी फैसले लिए गए। सहकारी समितियों का विस्तार हुआ और आर्थिक तौर पर मजबूत हुआ। किसानों को सहकारिता के माध्यम से कृषि आदान सहायता राशि किसानों के बैंक खाते में ट्रांसफर की गई, इससे किसान समृद्ध व खुशहाल हुआ। राज्य में किसान हितैषी महत्वाकांक्षी योजना राजीव गांधी किसान न्याय योजना का सफल क्रियान्वयन किया जा रहा है। जिलेवार समीक्षा बैठक में बताया गया कि १२ दिसम्बर तक छत्तीसगढ़ में ११ लाख ५९ हजार ५१३ किसानों से ४४.५७ लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी की जा चुकी है। इसके लिए सहकारी बैंकों के माध्यम से ८ हजार ५०३ करोड़ रूपए का भुगतान किसानों के बैंक खाते में किया जा चुका है। चालू फसल वर्ष में ६६१० करोड़ रूपए के अल्पकालीन कृषि ऋण वितरण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। बैठक में धान खरीदी, ब्याज मुक्त कृषि ऋण, धान के अलावा अन्य फसलों के लिए कृषि ऋण, मत्स्य पालन, उद्यानिकी फसल के लिए ऋण, ग्रामीण गौठान-रूरल इंडस्ट्रियल पार्क, वर्मी कम्पोस्ट, किसान क्रेडिट कार्ड और कृषि ऋणों की वसूली की समीक्षा की गई। बैठक में अपेक्स बैंक के संचालक सदस्य  द्वारिका साहू, शंकर सोढ़ी, अजय बंसल,  राकेश सिंह ठाकुर, अध्यक्ष जिला सहकारी बैंक जगदलपुर शंकर धुरवा, अम्बिकापुर  रामदेव राम, दुर्ग  राजेन्द्र साहू, बिलासपुर प्रमोद नायक, अपेक्स बैंक के प्रबंध संचालक  के.एन. कांडे, अपेक्स बैंक के डीजीएम  भूपेश चन्द्रवंशी, एजीएम  अजय भगत, प्रबंधक  सी.पी. व्यास, ए.के. लहरे और अभिषेक तिवारी, लेखाधिकारी विमल सिंह एवं  प्रभाकर कांत यादव उपस्थित थे।

Check Also

राज्य की समृद्ध लोक संस्कृति एवं परम्पराओं का संगम है युवा उत्सव : खेल मंत्री 

-राज्य स्तरीय युवा महोत्सव एवं लोक साहित्य महोत्सव का आगाज -युवा महोत्सव से मिल रहा …