Breaking News

पुलिस की बड़ी कार्रवाई: अवैध नशीली दवाइयां बेचने व तस्करी करने वालों को किया गिरफ्तार

ऋषिकेश (दीपक राणा)। आगामी 20 दिनों से चल रही अवैध नशे के विरुद्ध कार्रवाई में आज एसओजी देहात द्वारा बिना नंबर की एक्टिवा स्कूटी में दो व्यक्ति दो अलग-अलग प्रकार के 290 इंजेक्शन के साथ एनडीपीएस अधिनियम के अंतर्गत गिरफ्तार किया गया।। पुलिस उप-महानिरीक्षक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद देहरादून के द्वारा, अवैध नशीली दवाइयां इंजेक्शन बेचने व तस्करी करने वालो के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करने हेतु जनपद के एसओजी प्रभारी व समस्त थाना प्रभारियों को आदेशित किया गया था। पुलिस को उक्त आदेश के अनुपालन में पुलिस अधीक्षक देहात महोदया व क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश महोदय के द्वारा आवश्यक दिशा निर्देशों के साथ अलग-अलग पुलिस टीमें गठित की गई थी।
मेडिकल स्टोरों के आस पास घूमने वाले संदिग्धों पर कभी नजर रखी गई।
उच्च अधिकारी गणों से प्राप्त दिशा निर्देशों का पालन करते हुए
एस.ओ.जी देहात की टीम द्वारा लगातार ऐसे व्यक्तियों की निगरानी कर चेकिंग की जा रही थी। जिस पर कल सायं चेकिंग के दौरान भरत विहार स्थित खाली ग्राउंड के पास से बिना नंबर की स्कूटी में दो व्यक्तियों को रोककर चेक किया तो उनके पास भारी मात्रा में दो अलग-अलग ब्रांड के नशीले कुल 290 इंजेक्शन बरामद हुए।
मौके पर औषधि निरीक्षक महोदया को मौके पर बुलाकर उपरोक्त बरामद दवाइयां चैक करवाई गई, जिनके द्वारा बरामद दवाइयों को चेक कर बताया गया कि उक्त दवाइयां पूर्णता प्रतिबंधित है एवं एन.डी.पी.एस के अंतर्गत अपराध की श्रेणी में आती है।
नाम पता अभियुक्त गण
1- कासिब पुत्र एहसान अली निवासी बकरा मार्केट ज्वालापुर हरिद्वार
2- रिजवान पुत्र रियाज निवासी बकरा मार्केट ज्वालापुर हरिद्वार
बरामदगी विवरण
1- अभियुक्त कासिब से
75 इंजेक्शन PHENIRAMINE MALTAKE AV 10 ML VIAL*श
70 इंजेक्शन NRX BUPRENOR PHINE 2ML
2-अभियुक्त रिजवान से*
75 इंजेक्शन PHENIRAMINE MALTAKE AV 10 ML VIAL
70 इंजेक्शन NRX BUPRENOR PHINE 2ML
3- बिना नंबर की एक्टिवा रंग काला
गिरफ्तार दोनों अभियुक्तों से पूछताछ की गई। अभियुक्त कासिब द्वारा बताया गया कि मैंने “डी फार्मा” किया हुआ है, तथा वर्तमान समय में मैं ज्वालापुर स्थित एक क्लीनिक में कार्य करता हूं। जिस कारण मुझे नशीली दवाइयों की अच्छी जानकारी है।
यह माल हमें *ज्वालापुर के समीर राव निवासी धीरवाली, रामलीला ग्राउंड ज्वालापुर* के द्वारा दिया गया था। उसका पहले बकरा मार्केट में अपना मेडिकल स्टोर भी था। यह माल हम स्कूल कालेजों व राफ्टिंग एरिया आदि में बेचते हैं। क्योंकि ऋषिकेश मध-निषेध क्षेत्र है। इसलिए यहां पर हमारा माल दोगुनी दोगुनी कीमत में बिक जाता है।
अभियुक्त गणों द्वारा नशीली दवाइयों के संबंध में दी गई जानकारी पर दवाई उपलब्ध कराने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध भी एनडीपीएस अधिनियम के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी।
एसओजी देहात टीम
श्री ओमकांत भूषण*
(प्रभारी एस.ओ.जी देहात)
आरक्षी कमल जोशी
आरक्षी नवनीत नेगी
आरक्षी मनोज कुमार
आरक्षी सोनी कुमार
महिला आरक्षी जमुना।

Check Also

राष्ट्रीय मतदाता दिवस एवं गणतंत्र दिवस के 1 दिन पूर्व जिला क्रीड़ा अधिकारी संजीव पौरी द्वारा जिला स्तरीय क्रॉस कंट्री का आयोजन किया गया

ऋषिकेश, (दीपक राणा) नरेंद्र नगर  खेल निदेशालय उत्तराखंड के सौजन्य एवं जिला प्रशासन टिहरी गढ़वाल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *