Breaking News

आम जनता से किए वायदे पूरे कर रही छत्तीसगढ़ सरकार: बघेल

-पिरदा भेंट-मुलाकात में मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों से लिया योजनाओं पर फीडबैक

-पिरदा में उप तहसील की घोषणा

-ग्राम सांकरा में खुलेगा स्वामी आत्मानंद स्कूल, पिरदा महाविद्यालय का नया भवन बनेगा, नगर पंचायत बसना में बनेगा गौरव पथ

-ग्राम पंचायत सांकरा एवं पिरदा का होगा नगर पंचायत में उन्नयन

-सांकरा परसावानी मार्ग से रिखा दादर तक सड़क निर्माण, कुडेकेल नाला में नवीन पुल निर्माण की घोषणा

रायपुर (जनसंपर्क विभाग)। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज भेंट-मुलाकात के तहत विधानसभा बसना के ग्राम पिरदा पहुंचे। वहां उन्होंने ग्रामीणों से रूबरू चर्चा कर राज्य शासन की योजनाओं पर फीडबैक लिया। भेंट-मुलाकातमुख्यमंत्री ने इस अवसर पर ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार योजनाएं बनाती है। मैदानी स्तर पर इन योजनाओं का लोगों को कितना लाभ मिल रहा है यह देखने मैं आपके बीच आया हूं। मुख्यमंत्री ने कहा कि १७ दिसम्बर को राज्य सरकार चार साल पूरे कर रही है। हमने आम जनता से जो वायदे किए थे, उन्हें पूरा कर रहे हैं। सबसे पहले किसानों की ऋण माफी की। समर्थन मूल्य और इनपुट सब्सिडी सहित किसानों को धान का २५०० रुपए दे रहे हैं। इस तरह किसानों से किया वादा हमने पूरा किया। घरेलू बिजली बिल भी आधा किया। भेंट-मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री ने जनप्रतिनिधियों और ग्रामीणों के आग्रह पर क्षेत्र के विकास के लिए अनेक घोषणाएं की। उन्होंने पिरदा में महाविद्यालय के नये भवन निर्माण, ग्राम पिरदा में उप तहसील, ग्राम सांकरा में स्वामी आत्मानंद स्कूल प्रारंभ करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने इसी क्रम में ग्राम पंचायत सांकरा एवं पिरदा का नगर पंचायत में उन्नयन, नगर पंचायत बसना में गौरव पथ के निर्माण, सांकरा परसावानी मार्ग से रिखा दादर तक सड़क निर्माण, कुडेकेल नाला में नवीन पुल निर्माण की घोषणा की। भेंट-मुलाकातकार्यक्रम के प्रारंभ में मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ महतारी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर भेंट-मुलाकात की शुरूआत की।रूरल इंडस्ट्रियल पार्क में उद्योग लगाने वालों को मिलेगी आधी दर पर बिजली मुख्यमंत्री  बघेल ने भेंट-मुलाकात में कहा कि हमारा लक्ष्य लोगों की आय में वृद्धि करना है। राज्य सरकार शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार के क्षेत्र में लगातार कार्य कर रही है। जो उद्योग लगाना चाहते हैं, उनके लिए दो करोड़ की लागत से गौठान में रूरल इंडस्ट्रियल पार्क बना रहे हैं। तेलघानी, ईंट बनाने आदि जैसे उद्यमों के लिए उद्यमियों को जगह उपलब्ध करा है, उन्हें बिजली भी आधी दर पर दे रहे हैं। इससे ना सिर्फ उद्यमी को स्व रोजगार मिलेगा बल्कि वह अन्य लोगों को भी रोजगार देने में सक्षम होंगे। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना का लाभ लोगों को मिल रहा है, इस योजना में २० लाख रुपए तक की सहायता दे रहे हैं। हाट बाजार क्लिनिक में मुफ्त में इलाज हो रहा है। स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी स्कूल हमने खोले हैं ताकि गरीब वर्ग के बच्चे भी अंग्रेजी माध्यम में मुफ्त शिक्षा प्राप्त कर सकें।भेंट-मुलाकात में केशरपुर निवासी किसान तुकाराम ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनका ०१ लाख रुपए का लोन माफ हुआ।भेंट-मुलाकात बोलेरो गाड़ी खरीदी है। उन्होंने तुकाराम की उन्नत खेती की तारीफ की। सरईभद्रा निवासी किसान कूसो ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनकी ८० डिसमिल जमीन है, १५ साल पहले का मामला है। सोसायटी से उन्हें कर्ज माफी का लाभ नहीं मिला। इस पर मुख्यमंत्री ने ऋण मुक्ति के संबंध में जांच के आदेश दिए। ललित प्रधान ने बताया कि २ लाख ७३ हजार का कर्ज है, भूमि विकास बैंक को ८ लाख का कर्ज पटा चुका हूं। ललित प्रधान द्वारा ऋण संबंधित मुद्दा रखने पर मुख्यमंत्री ने भूमि विकास बैंक से लिए गए ऋण के संबंध में जल्द निराकरण के लिए उन्हें आश्वस्त किया। रतनी बाई ने मुख्यमंत्री को बताया कि उसका राशन कार्ड नहीं है, बेटों के नाम से है, लेकिन मेरा नहीं बना है, दो-तीन माह से आवेदन दिया है। इस पर मुख्यमंत्री ने तत्काल राशनकार्ड बनवाने के निर्देश कलेक्टर को दिए। बुजुर्ग महिला राजकुमारी ने बताया कि राशन कार्ड में चावल, शक्कर, नमक सभी सामग्री मिल रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि योजना का लाभ अवश्य लें।भेंट-मुलाकात में विमला पटेल ने बताया कि वर्मी कम्पोस्ट से ०१ लाख ३२ हजार रुपए की आमदनी हुई है, समूह के प्रत्येक सदस्य को १० हजार रुपए मिले हैं। दुर्गा मिश्रा ने मुख्यमंत्री को बताया कि पांच क्विंटल गोबर बेचा है, ६ महीने से राशि नहीं मिली है। इसे सुनकर मुख्यमंत्री ने कलेक्टर को जांच कराने निर्देश दिए।

भेंट-मुलाकात

 

Check Also

सरगुजा की भाजियों का स्वाद मैं आज तक नहीं भूला : बघेल

-सरगुजा के ग्रामीणों को मुख्यमंत्री ने आत्मीयता से कराया भोजन -भेंट-मुलाकात के दौरान जिन ग्रामीणों …