मुख्य सचिव ने सर्वोच्च प्राथमिकता वाले कार्यों पर तत्परता से कार्यवाही करने के दिए निर्देश

रायपुर (जनसंपर्क विभाग)। प्रदेश के मुख्य सचिव अमिताभ जैन ने आज मंत्रालय महानदी भवन में अधिकारियों की उच्च स्तरीय बैठक में राज्य शासन के महत्वपूर्ण विषयों एवं योजनाओं की समीक्षा की। मुख्य सचिव ने अधिकारियों को राज्य शासन के महत्वपूर्ण एवं प्राथमिकता वाले कार्यों पर तत्परता से कार्यवाही निर्देश दिए। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये आयोजित इस बैठक में मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू तथा अपर मुख्य सचिव खेल एवं युवा कल्याण विभाग रेणु पिल्ले सहित विभिन्न विभागों के सचिवगण शामिल हुए। मुख्य सचिव ने मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के निर्देशानुसार पिछड़ा वर्ग एवं अनुसूचित जाति के गरीब प्रतिभावान विद्यार्थियों को प्रयास स्कूलों की तरह इंजीनियरिंग एवं मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी प्रतिष्ठित कोचिंग संस्थाओं के माध्यम से कराने के लिए आवश्यक कार्यवाही करने को कहा। उन्होंने प्रयास विद्यालय की तरह रायपुर, बिलासपुर एवं दुर्ग जहां शिक्षा की बेहतर सुविधाएं है, वहां नए छात्रावासों का निर्माण करने के निर्देश दिए। मुख्य सचिव ने विभिन्न खेलों के खिलाड़ियों के लिए टेऊनिंग कार्यक्रम निर्धारित करने को कहा। उन्होंने छत्तीसगढ़िया खेल ओलंपिक आयोजित करने के लिए आवश्यक तैयारियां करने के निर्देश दिए।मुख्य सचिव ने राज्य के विभिन्न गांवों में कोटवार एवं पटेलों के पदों को आवश्यकतानुसार शीघ्र भरने के निर्देश दिए गए। इसी तरह शहरी भूमि के व्यवस्थापन एवं आबंटन के लिए नियमानुसार कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग के अंतर्गत शहरी स्लम, ईडब्ल्यूएस एवं आवास पट्टा वितरण की कार्ययोजना के संबंध में विस्तार से जानकारी ली। मुख्य सचिव ने स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत दस हजार शिक्षकों की भर्ती की कार्ययोजना के संबंध में शिक्षा विभाग के अधिकारियों से जानकारी ली। उन्होंने शहरों में डायग्नोस्टिक सर्विसेज और नगर निगमों में टाउन प्लानर की जानकारी ली तथा नगरीय क्षेत्रों के सार्वजनिक स्थलों जहां पर वाटर एटीएम की आवश्यकता है वहां लगाने के निर्देश दिए। मुख्य सचिव ने आवास एवं पर्यावरण विभाग से रायपुर के शांति नगर में अनुउपयोगी भूमि के व्यवसायिक विकास की कार्ययोजना की जानकारी ली। उन्होंने नवा रायपुर में सेवाग्राम कार्ययोजना की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने तकनीकी शिक्षा विभाग के अधिकारियों से प्रदेश के विकासखण्डों में आईटीआई खोलने की कार्ययोजना की जानकारी ली। मुख्य सचिव ने रीपा (रूरल इंडस्ट्रियल पार्क) की प्रगति एवं मार्केटिंग की समीक्षा करते हुए इस कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने रायपुर के उरला एवं सिलतरा औद्योगिक क्षेत्र में फायर ब्रिगेड की स्थापना के लिए गृह, वाणिज्य एवं उद्योग विभाग के अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने संस्कृति विभाग के अधिकारियों को राज्य के पुरातात्विक एवं सांस्कृतिक साहित्य का वेबपोर्टल तैयार करने के लिए समुचित कार्यवाही करने कहा। उन्होंने चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधिकारियों को डीकेएस सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल में आवश्यक व्यवस्थाओं और सुपर स्पेशिलिटी चिकित्सा कोर्स के संचालन के लिए आवश्यक व्यवस्था करने कहा। उन्होंने प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर स्थापित किए गए महत्वपूर्ण चेक पोस्टों पर इलेक्ट्रानिक वे ब्रिज की स्थापना करने के लिए समुचित कार्यवाही करने के निर्देश भी दिए।

Check Also

किसानों, वनवासियों और श्रमिकों की जेब में पैसा आने का असर छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था पर दिख रहा है: मुख्यमंत्री

-मुख्यमंत्री भिलाई में अग्रसेन जयंती के कार्यक्रम में हुए शामिल रायपुर (जनसंपर्क विभाग)। मुख्यमंत्री  भूपेश …