crime news

जिंदा पत्नी को ‘मार’ डाला

 इंश्योरेंस कंपनी से एक करोड़ रुपये हड़पने की साजिश ,पड़ोसी की मौत की जगह दिखाई पत्नी की मौत

crime news

हैदराबाद । अपनी पत्नी की मौत का झूठा दावा करते हुए इंश्योरेंस कंपनी से एक करोड़ रुपये हड़पने की साजिश तब उल्टी पड़ गई जब पत्नी को जीवित पाया गया। शनिवार को बंजारा हिल्स पुलिस ने पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है जबकि मुख्य आरोपी की तलाश जारी है। बंजारा हिल्स पुलिस इंस्पेक्टर के श्रीनिवास ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि नाजिया शकील को धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। उन पर पुरानी हवेली स्थित प्रिंसेस दुरु शेहवर अस्पताल के रिकॉर्ड में हेरफेर करने के साथ ग्रेटर हैदराबाद म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन (जीएसएमसी) से मृत्यु प्रमाण पत्र प्राप्त करने से पहले कब्रिस्तान की जमीन के रिकॉर्ड से भी छेड़छाड़ करने का आरोप है।  अधिकारियों ने कहा कि नाजिया शकील और उनके पति सईद आलम ने 2012 में एक इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदी थी और एक करोड़ की कुल राशि के लिए हर साल 11,000 रुपये प्रीमियम भर रहे थे।  29 सितंबर को बंजारा हिल्स रोड 10 स्थित आईसीआईसीआई प्रुडेंशियल अधिकारियों ने पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई जिसमें उन्होंने साफ किया कि उन्हें नाजिया शकील के नाम से एक क्लेम ऐप्लीकेशन मिला है जिसपर उनके पति ने दावा ठोंका है। श्रीनिवास ने बताया, क्लेम ऐप्लीकेशन में सईद ने नाजिया की मौत की घोषणा करते हुए दुरु शेहवर हॉस्पिटल का सर्टिफिकेट, कब्रिस्तान सर्टिफिकेट और जीएसएमसी से प्राप्त मृत्यु प्रमाण पत्र अटैच किया था। जब कंपनी के फील्ड ऑफिसर ने तथ्यों की जानकारी की तो पाया कि नाजिया जिंदा है और उनके पति ने धोखाधड़ी कर क्लेम किया था। पड़ोसी की मौत की जगह दिखाई पत्नी की मौत  पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर जांच में पाया कि दाबीरपुरा इलाके में ही आरोपी की पड़ोस में रहने वाली मल्लिका बेगम की मौत दुरु शेहवर अस्पताल में हुई थी। आरोपी ने मल्लिका के सारे डॉक्यूमेंट्स में नाम बदलकर नाजिया का नाम लिखा था।  इसके बाद पुलिस इस मामले में एफआईआर लिखकर दंपती को पकडऩे उनके आवास पहुंची तो दोनों गायब थे। जानकारी जुटाते पुलिस ने नाजिया को उनके रिश्तेदार के घर से शनिवार को गिरफ्तार किया। पूछताछ के दौरान नाजिया आरोप स्वीकार किए और पति की डीटेल्स भी दीं जिसके बाद पुलिस मुख्य आरोपी की फिराक में है।

Check Also

00

Leave a Reply

Your email address will not be published.