Breaking News

लोगों को लुभा रहा आवास एवं पर्यावरण विभाग का स्टॉल

-सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग न किये जाने की अपील पर अधारित है

-छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मण्डल का स्टॉल

-निर्माण लागत पर घर योजनाच् में दिखाई दे रही लोगों की विशेष रूचि

-राज्योत्सव में पर्यावरण संरक्षण मण्डल की प्रदर्शनी में डिजिटल डिस्प्ले भी

रायपुर (जनसंपर्क विभाग)।छत्तीसगढ़ राज्योत्सव 2022 के अवसर पर राजधानी रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान परिसर में आवास एवं पर्यावरण विभाग अंतर्गत लगाया गया स्टॉल लोगों को खूब लुभा रहा है। इनमें छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल की प्रदर्शनी अंतर्गत च्निर्माण लागत पर घर योजनाच् में लोगों द्वारा विशेष रूचि दिखायी जा रहा है। इसी तरह छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल की प्रदर्शनी में प्रवेश द्वार पर ही सिंगल यूज प्लॉस्टिक पर प्रतिबंध का संदेश आकर्षक ढंग से दिया जा रहा है।स्टॉल के प्रवेश द्वार पर ही बड़े आकर्षक ढंग से यह लिखा गया है कि सिंगल यूज प्लास्टिक पर ०१ जुलाई २०२२ से प्रतिबंध लगा दिया गया है। सिंगल यूज प्लास्टिक से बनी जिन वस्तुओं पर प्रतिबंध लगाया गया है, उनका भी चित्र बनाकर उल्लेख किया गया है। महत्वपूर्ण बात यह है कि मण्डल की पूरी प्रदर्शनी डिजिटल है। डिजिटल में ही मण्डल के कार्यकलाप, उपलब्धियां, योजनाएं एवं विभिन्न विषयों पर चलाये जा रहे जन-जागरूकता अभियान को दर्शाया गया है।मण्डल की प्रदर्शनी में मण्डल द्वारा तैयार की जा रही अत्याधुनिक केन्द्रीय प्रयोगशाला का भी मॉडल रखा गया है एवं एक फिल्म के माध्यम से प्रयोगशाला एवं उसके उपकरणों के बारे में जानकारी दी जा रही है। मण्डल के स्टॉल में दर्शकों के साथ छात्र-छात्राओं की भी भारी भीड़ है जो सिंगल यूज प्लास्टिक पर अपनी जिज्ञासाएं मण्डल के अधिकारियों एवं प्रतिनिधियों के समक्ष रख रहे हैं। विदित हो कि सर्वश्रेष्ठ स्टॉल की श्रेणी में आवास एवं पर्यावरण विभाग के स्टॉल को विशेष पुरस्कार दिया गया है, जो मण्डल के लिए एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है।इसी तरह आवास एवं पर्यावरण विभाग अंतर्गत छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल की प्रदर्शनी में मंडल की योजनाओं एवं रिक्त संपत्तियों की जानकारी स्टॉल में लोगों को दी जा रही है। मंडल की चिन्हित आवासीय एवं व्यवसायिक योजनाओं में च्निर्माण लागत पर घर योजनाच् में लोगों की विशेष रुचि देखने को मिल रही है। इस योजना अंतर्गत एकमुश्त भवन मूल्य की राशि जमा करने की योजना के तहत तीन माह के भीतर जमा करने पर १० प्रतिशत की छूट तथा ६ माह में जमा करने पर ५ प्रतिशत की छूट दी जा रही है। मंडल के स्टॉल में संपत्तियों के तत्काल ऑनलाइन बुकिंग की सुविधा भी दी जा रही है। मंडल के स्टॉल में अब तक ४०० से अधिक इच्छुक हितग्राहियों को मंडल की योजनाओं की जानकारी प्रदान की जा चुकी है।

Check Also

मुख्यमंत्री बघेल ने एनपीएस की राशि, जीएसटी क्षतिपूर्ति की मांग दोहराई

-कहा, राज्य का अंश ‘पृथक पेंशन निधि’ में किया जाएगा जमा, प्रतिभूतियों में होगा निवेश …