Breaking News

नए जिले के विकास के लिए कई नए काम होंगे, अधिकारी जिम्मेदारी से काम करें: सीएम

-मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नवगठित सारंगढ़-बिलाईगढ़ जिले के अधिकारियों की समीक्षा बैठक

-आदिम जाति विकास विभाग के बारे में शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए दिए जांच के निर्देश

रायपुर (जनसंपर्क विभाग)।  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज नवगठित सारंगढ़-बिलाईगढ़ जिले भेंट-मुलाकात के दौरान बिलाईगढ़ रेस्ट हाउस में अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। मुख्यमंत्री बघेल ने आम जनता से आदिम जाति विकास विभाग के बारे में मिली लेन-देन की शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए शिकायतों की जांच कर उसके निराकरण के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि सारंगढ़-बिलाईगढ़ नया जिला बना है। इस नए जिले के विकास के लिए कई नए कार्य कराए जाएंगे। अधिकारी जिले के विकास के लिए मेहनत, जवाबदारी और बेहतर तरीके से काम करें। उन्होंने कहा कि जिले में गौठानों का तेजी से निर्माण करें, यह रोजगार का अच्छा जरिया है। इससे पलायन रोक सकते हैं। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने इस अवसर पर बिलाईगढ़ स्थित रेस्ट हाउस में पौधा भी लगाया। मुख्यमंत्री बघेल ने अधिकारियों को नये परिवारों के राशन कार्ड और सांवरा जाति के बच्चों के लिए जाति प्रमाण पत्र बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने योजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि जिन स्थलों पर सामुदायिक और व्यक्तिगत वनाधिकार की शिकायतें सामने आई हैं, उसका प्राथमिकता से निराकरण करें। धान खरीदी में कोई शिकायत नहीं आई है, बस पेमेंट सिस्टम देख लें। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह दुर्गम क्षेत्र नहीं है, यहां बिजली की शिकायत बिल्कुल नहीं आनी चाहिए। विशेषकर मध्य के जिलों में समस्या नहीं होनी चाहिए। इस अवसर पर आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, बिलाईगढ़ विधायक एवं संसदीय सचिव चंद्रदेव प्रसाद राय, मुख्यमंत्री के सचिव  अंकित आनंद, बिलासपुर संभाग के कमिश्नर डॉ. संजय अलंग, पुलिस महानिरीक्षक बी.एन. मीणा, सारंगढ़-बिलाईगढ़ कलेक्टर डॉ. फरिहा आलम सिद्धिकी, बलौदाबाजार-भाटापारा कलेक्टररजत बंसल भी उपस्थित थे।

Check Also

राज्य की समृद्ध लोक संस्कृति एवं परम्पराओं का संगम है युवा उत्सव : खेल मंत्री 

-राज्य स्तरीय युवा महोत्सव एवं लोक साहित्य महोत्सव का आगाज -युवा महोत्सव से मिल रहा …