Breaking News
nwn

जिंदगी जीने का मकसद हो तो आती है अच्छी नींद

health newsnwn

अगर आपने अपनी जिंदगी का कोई उद्देश्य या मकसद तय कर रखा है तो यह आपको स्लीप ऐप्निया नाम की बीमारी से बचा सकता है और आप अच्छी नींद का आनंद ले सकते हैं। वैज्ञानिकों ने एक अध्ययन में इस बात का पता लगाया है कि जिन उम्रदराज लोगों के पास जीवन जीने का मकसद होता है, उनमें नींद से संबंधी बीमारियां कम होती हैं। अमेरिका के नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी के अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि ऐसे बुजुर्ग लोग जिनके पास जिंदगी जीने का मकसद होता है उनमें नींद संबंधी विकार स्लीप ऐप्निया से पीडि़त होने की आशंका 63 प्रतिशत कम होती है। यह एक ऐसा विकार है जिसमें सोने के दौरान सांस लेने में समस्या होती है। हालांकि इस अध्ययन में हिस्सा लेने वाले ज्यादातर लोग बुजुर्ग थे लेकिन अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि यह बड़े पैमाने पर सभी उम्र के लोगों पर लागू हो सकता है। यह अध्ययन स्लीप साइंस ऐंड प्रैक्टिस जर्नल में प्रकाशित हुआ है।

Check Also

बेटियाँ है तो सृष्टि है-स्वामी चिदानन्द सरस्वती

ऋषिकेश (दीपक राणा )। अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर परमार्थ निकेतन में विभिन्न गतिविधियों …

Leave a Reply

Your email address will not be published.