उत्तराखंड में महिला महोत्सव

राज्य आंदोलनकारी और कर्मठ महिलाओं को सम्मान
-नेशनल वार्ता ब्यूरो-
बीते दिवस को उत्तराखंड में महिला महोत्सव के रूप में याद किया जाता रहेगा। एक ओर राज्य प्राप्ति के लिए चले आंदोलन की समर्पित आन्दोलनकारी महिलाओं को सम्मानित किया गया तो दूसरी ओर ऐसी महिलाओं का भी सम्मान किया गया जो अपने-अपने क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान दे रही हैं। आन्दोलनकारी महिलाओं को उत्तराखण्ड राज्य आन्दोलनकारी मंच ने सम्मानित किया जबकि भिन्न-भिन्न क्षेत्रों में सक्रिय महिलाओं को उत्तरांचल महिला एसोसिएशन (उमा) नामक मंच ने सम्मानित किया। आन्दोलनकारी महिलाओं के सम्मान में आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संस्कृति के नायक नरेन्द्र सिंह नेगी रहे जबकि उमा द्वारा आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचन्द्र अग्रवाल रहे। आन्दोलनकारी मंच ने 80 महिलाओं को उनके विशेष योगदान के लिए सम्मानित किया जबकि उमा ने 10 महिलाओं को सम्मानित किया। 80 आन्दोलनकारी सम्मानित की गई महिलाओं में सुशीला बलूनी, ऊषा नेगी, निर्मला बिष्ट, सरोज डिमरी, सरोज पंवार, सरिता गौड़, ऊषा रावत, भुवनेश्वरी कठैत, पुष्प लता सिलमाना, सत्या पोखरियाल, द्वारिका बिष्ट, शकुन्तला रावत, कमला भट्ट, प्रभा बहुगुणा, कुसम लता शर्मा, देवेश्वरी रावत, राजेश्वरी रावत, शकुन्तला बामराड़ा, लक्ष्मी बिष्ट, राजेश्वरी परमार, सुशीला चन्दोला, सरोजनी चौहान, रामेश्वरी बर्थवाल, बीना बहुगुणा, माला रावत, पुष्पा सकलानी सहित कई आन्दोलनकारी महिलाएं शामिल रहीं। दूसरी ओर उमा के सम्मान समारोह में प्रिया गुलाटी, शारदा बख्शी, भारतीय सकलानी, रीना झा, डॉ0 प्रज्ञा उपाध्याय, शिवानी बंसल, डॉ0 नीतिका मित्तल, डॉ0 पल्लवी सिंह, बीना गुप्ता, मोनिका सूद जैसी महिलाओं को उल्लेखनीय भूमिकाओं के लिए सम्मान दिया गया। इस अवसर पर महिला आयोग की अध्यक्ष कुसुम कण्डवाल भी उपस्थित रहीं। -सावित्री पुत्र वीर झुग्गीवाला (वीरेन्द्र देव), पत्रकार, देहरादून।

Check Also

भारत

वैश्विक स्तर पर भारत का मान, सम्मान एवं स्वाभिमान बढ़ा : मुख्यमंत्री धामी

देहरादून (सू0वि0)।  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को जोशीमठ विकासखण्ड के ग्राम पंचायत बड़ागांव …

Leave a Reply

Your email address will not be published.