Breaking News

सीएम ने मुख्यमंत्री वृक्ष सम्पदा योजना का किया वर्चुअल शुभारंभ

-योजना के अंतर्गत पात्र हितग्राहियों को ०५ एकड़ भूमि पर पौधों का रोपण हेतु शत प्रतिशत मिलेगा अनुदान

-ग्राम देवरी में जिला स्तरीय कार्यक्रम का हुआ आयोजन

रायपुर (जनसंपर्क विभाग)।   विश्व वानिकी दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज रायपुर से राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी मुख्यमंत्री वृक्ष सम्पदा योजना का वर्चुअल शुभारंभ किया और प्रदेशवासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन मुंगेली विकासखण्ड के ग्राम देवरी (संगवा) में किया गया। जहां किसान दल्लभ मंडलोई के खेत में जिला पंचायत अध्यक्ष लेखनी सोनू चंद्राकर, नगरपालिका अध्यक्ष हेमेन्द्र गोस्वामी, कलेक्टर श्री राहुल देव, पुलिस अधीक्षक  चन्द्रमोहन सिंह, वन मण्डलाधिकारी  शमा फारूखी, मुंगेली एसडीएम सुश्री आकांक्षा शिक्षा खलखो ने सफेद चंदन व अन्य प्रजाति के पौधे का रोपण किया और हितग्राही को बधाई दी। इससेे पहले जिला स्तरीय कार्यक्रम का शुभारंभ राज्यगीत और छत्तीसगढ़ महतारी के तैल्यचित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती चंद्राकर ने कहा कि मुख्यमंत्री वृक्ष सम्पदा योजना का उद्देश्य किसानों व अन्य हितग्राहियों को उनके निजी भूमि पर वाणिज्यिक प्रजातियों के वृक्षारोपण कर उनके आय में बढ़ोत्तरी करना है। नगरपालिका अध्यक्ष ने कहा कि वृक्ष लगाने के साथ-साथ उसका देखरेख व संवर्धन करना भी जरूरी है। उन्होंने मुख्यमंत्री बघेल को योजना के शुभारंभ के लिए धन्यवाद दिया। वहीं अधिक से अधिक लोगों को योजना का लाभ उठाने की बात कही। कलेक्टर ने कहा कि यह राज्य शासन की महत्वाकांक्षी योजना है। जिसमें जिले के नागरिक अपने निजी भूमि पर वृक्षारोपण कर योजना का लाभ ले सकते हैं। इस योजना के तहत ०५ एकड़ तक १०० प्रतिशत अनुदान व ०५ एकड़ से अधिक भूमि होने पर ५० प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि वृक्ष लगाने से हितग्राहियों को आर्थिक लाभ के साथ-साथ पर्यावरण भी संरक्षित होगा। वन मण्डलाधिकारी ने योजना के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि योजना के अंतर्गत मुख्य रूप से ०५ वृक्ष प्रजाति टिशू कल्चर बांस, क्लोनल नीलगिरी, मिलिया डूबिया (मालाबार नीम), टिशू कल्चर सागौन के साथ-साथ चार वाणिज्यिक औषधीय पौधों स्टीविया, अश्वगंधा, सर्पगंधा और सतावर की खेती किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री वृक्ष सम्पदा योजना के तहत जिले में १५५ हितग्राहियों के ४०७ एकड़ भूमि में वृक्षारोपण किया जा रहा है। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री डी. एस. राजपूत, जिला पंचायत सदस्य श्री वशीउल्लाह खान, गणमान्य नागरिक राकेश पात्रे, विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी सहित वन विभाग के अधिकारी-कर्मचारी, ग्राम के सरपंच सहित बड़ी संख्या में ग्रामवासी मौजूद थे। हितग्राही श्री मंडलोई ने बताया कि वह पेशे से शिक्षक है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री वृक्ष सम्पदा योजना के बारे में वन विभाग से जानकारी मिली थी। जिसके बाद उन्होंने अपने १.५ एकड़ निजी भूमि पर वृक्षारोपण करने हेतु सहमति दी थी। आज मुख्यमंत्री वन सम्पदा योजना के तहत उनके १.५ एकड़ खेत में पौधारोपण किया गया है। वह इस योजना से काफी खुश है। उन्होंने इस योजना के लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया है।

ग्राम देवरी में जिला स्तरीय कार्यक्रम का हुआ आयोजन

Check Also

नवनियुक्त मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय से प्रदेश भर से आए विभिन्न सामाजिक संगठनों ने की मुलाकात

-मुख्यमंत्री बनने पर दी बधाई और शुभकामनाएं रायपुर (जनसंपर्क विभाग) ।  छत्तीसगढ़ के नवनियुक्त मुख्यमंत्री …