Breaking News

रामचरितमानस पर बहस: सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य की मुश्किलें बढ़ीं, अदालत ने निगरानी याचिका मंजूर की

सपा नेता और एमएलसी स्वामी प्रसाद मौर्य के सामने रामचरित मानस पर विवादास्पद टिप्पणी का मामला बढ़ गया है। प्रभारी जिला जज सुभाष चंद्र तिवारी की अदालत ने मामले में दाखिल निगरानी याचिका मंजूर कर ली। साथ ही सुनवाई का अगला दिन 11 दिसंबर निर्धारित किया गया था। साथ ही समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य को नोटिस जारी करने का आदेश दिया गया है।

निगरानी याचिका में अधिवक्ता अशोक कुमार ने कहा कि स्वामी प्रसाद मौर्य की टिप्पणी से देश-विदेश में रहने वाले असंख्य हिंदुओं की आस्था को ठेस पहुंचा है। टिप्पणी ने जाति, धर्म और भेदभाव फैलाया है, जो अराजकता को बढ़ाता है। आपसी सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश की, जो अनुचित है। याचिका अदालत ने स्वीकार की और अगली सुनवाई तिथि निर्धारित की।

Check Also

उत्तराखंड: सीएम धामी ने समान नागरिक संहिता विधान सभा से पास होने पर प्रदेशवासियों को दी शुभकामनाएं

देहरादून (सू0वि0)। मुख्यमंत्री  पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड में समान नागरिक संहिता विधान सभा सदन …