Breaking News
rafting rishikesh

पर्यटकों ने राफ्टिंग का जमकर लुफ्त उठाया

rafting rishikesh

(नेशनल  वार्ता ब्यूरो)

माह के अंतिम वीकेंड पर तीर्थनगरी में पर्यटकों ने राफ्टिंग का जमकर लुफ्त उठाया। तीर्थनगरी के गंगा तटों पर दिन भर पर्यटकों की भीड़ रही। यूं तो तीर्थनगरी वर्षभर पर्यटकों की आमद से गुलजार रहती है, मगर ग्रीष्मकाल में पर्यटकों और तीर्थयात्रियों की आमद ज्यादा रहती है। इसकी मुख्य वजह तीर्थनगरी में गंगा में रिवर राफ्टिंग का होना है। यहां शनिवार और रविवार को रिवर राफ्टिंग के लिए गंगा तटों पर पर्यटकों का हुजूम उमड़ पड़ता है। प्रशासन द्वारा निर्धारित समयावधि के अनुसार इस माह की अंतिम तिथि 30 जून को राफ्टिंग बंद हो जाएगी, इसलिए अंतिम वीकेंड पर शनिवार को तीर्थनगरी के गंगा तटों पर राफ्टिंग के लिए भारी भीड़ पहुंची और पर्यटकों ने जमकर राफ्टिंग का मजा लिया। शनिवार को शिवपुरी से लेकर पूर्णानंद घाट तक गंगा में रंग-बिरंगी राफ्टें एक मनमोहक दृश्य के रूप में दिखायी देती रही। सुबह से लेकर शाम तक पर्यटक राफ्टिंग के लिए गंगा किनारे राफ्टिंग प्वाइंट पर खड़े नजर आए। इन दिनों ग्रीष्मकालीन छुट्टियां भी चल रही है, इससे दूर दराज से राफ्टिंग करने के शौकीन तीर्थनगरी में गंगा तटों पर पहुंचे। पर्यटकों की भीड़ को देखते हुए कई राफ्टिंग व्यवसायियों ने इस मौके का बखूबी फायदा उठाया और ओवरलोडिंग राफ्टें भी गंगा में उतारी। इस दौरान क्षेत्र में सभी होटल, बीच कैंप भी पर्यटकों से खचाखच भरे रहे। वहीं रामझूला में होने वाले नौका विहार में भी पर्यटकों ने दिनभर मजे किए। एसडीएम नरेन्द्रनगर लक्ष्मीराज चौहान ने बताया कि 30 जून के बाद गंगा में राफ्टिंग बंद हो जाती है। इसलिए माह के अंतिम वीकेंड पर बड़ी संख्या में पर्यटक साहसिक पर्यटन का लुत्फ लेने तीर्थनगरी पहुंचे।

Check Also

kashmir valley looking like a fairy land again

रात में डल झील लगती है अब परी लोक परीलोक दिखने लगा है फिर से …

Leave a Reply

Your email address will not be published.