Breaking News

देश की विख्यात कंपनी लार्सेंन एंड टूबरों ने चमोली के सरकारी प्राथमिक स्कूल को संसाधनों से किया लैस

टिहरी। देश की विख्यात कंपनी L&T (Larsen&Toubro)(लार्सेंन एंड टूबरों) भले ही देश के विभिन्न क्षेत्रों मे अपने काम के चलते लोहा मनवाती आ रही हो,लेकिन शैक्षिक क्षेत्र मे भी कम्पनी अहम योगदान दे रही है। इसी कड़ी मे आज कम्पनी से जुड़े अधिकारियो ने गूलर स्थित चमोली के सरकारी प्राथमिक स्कूल को संसाधनों से लैस कर दिया है। इसको लेकर विद्यालय प्रबंधन और छात्रों के अभीभावकों ने कंपनी और उससे जुड़े अधिकारियो की जमकर सराहना की है।

दरअसल,पिछले कुछ वर्षो से शिवपुरी-गूलर मे ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल प्रोजक्ट निर्माण मे अपना अहम रोल निभा रही L&T(Larsen&Toubro) कम्पनी टनल निर्माण के कार्य मे गुणवत्ता से जुटी हुई है। जिसका अवलोकन प्रदेश के मुख्यमंत्री भी कर चुके हैं। परियोजना के आसपास के इलाकों मे स्थित कई स्कूलों मे कम्पनी द्वारा समय समय उपकरण बच्चों की शिक्षा मे उपयोगिता के लिए वितरित किए जा चुके हैं। ऐसे मे बच्चों को आधुनिक युग मे संसाधनों से वंचित न रहना पड़े यह कंपनी का उदेश्य भी है। कुछ दिन पूर्व परियोजना के अधिकारियो ने चमेली के प्राथमिक स्कूल मे विद्यालय प्रबंधन से वार्ता की और कहा कि क़्या कुछ इस विद्यालय मे ऐसी व्यवस्था कंपनी द्वारा की जाय की ग्रामीण स्तर पर बच्चों को आधुनिक युग का ज्ञान और शिक्षा मे कोई कमी महसूस न हो,जो ज्ञान शहर के स्कूली बच्चों को स्कूल मे मिल जाता है वह इस विद्यालय मे भी मिले। इसी कड़ी मे आज परियोजना अधिकारी अपनी टीम के साथ पहुंचे और विद्यालय प्रबंधन,छात्रों और उनके अभिभावकों के समक्ष कम्प्यूटर,लैपटॉप,प्रिंटर,शैक्षिक सामाग्री, फर्नीचर, मैट,वाटर टैंक,आरो,LED,ड्रेस आदि वितरित कर दिए। जिससे विद्यालय प्रबंधन,अभिभावकों ने कम्पनी के इस कार्य की सराहना की है। परियोजना अधिकारी अजय प्रताप सिंह ने बताया कि कम्पनी का धेय है की रूलर इलाकों मे अक्सर संसाधनों की कमी की वजह से बच्चों को शिक्षा ग्रहण करने मे दिक्क़तों का सामना करना पड़ता है,ऐसे मे कम्पनी का उदेश्य है कि ऐसे स्कूलों की मदद की जाय जंहा संसाधनों का अभाव है। आपको बता दें बीते कुछ समय से कम्पनी क्षेत्र के स्कूलों मे समय-समय पर जरूरत की सामाग्री उपलब्ध करवा चुकी है और आगे भी करती रहेगी। उधर,ग्राम प्रधान मंजू चौहान ने बताया कि परियोजना अधिकारीयों की यह बहुत अनूठी पहल है जो बच्चों के उनके भविष्य निर्माण करने मे सहायता प्रदान करेगी। इस मौके पर परियोजना प्रबंधक प्रभु कुमार,विश्वमोहन श्रीवास्तव,आलोक पात्रा,नीरज कुमार झा,शंकर कुमार,प्रदीप पुलकित,मुख्य शिक्षा अधिकारी
ललित मोहन चमोला, एएन दुबे,प्रिंसिपल मनीष उनियाल एवं बच्चों के अभिभावकों के साथ ग्रामीण उपस्थित रहे।

Check Also

गणतंत्र दिवस: मुख्यमंत्री ने ‘गणतंत्र नमन’ कार्यक्रम में किया प्रतिभाग एवं चित्र प्रदर्शनी का किया शुभारम्भ

देहरादून (सूoवि0) । मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर रेंजर्स ग्राउण्ड …