Breaking News

देहरादून से पौंटा साहब फोरलेन की सड़क

-वीरेन्द्र देव गौड़ एवं एम एस चौहान

सरकार देहरादून से पौंटा साहब तक अच्छी सड़कें बनाने जा रही है। पौंटा साहब एक सुप्रसिद्ध तीर्थ स्थल है। यह तीर्थ स्थल हिमाचल प्रदेश की सीमा के अन्दर है। उत्तराखण्ड की सीमा समाप्त होते ही इस तीर्थ स्थल के दर्शन होते हैं। गुरु गोविन्द साहब का यह पसन्दीदा स्थल हुआ करता था। वे यहाँ अपना दरबार लगाते थे। वे महाजिहादी औरंगजेब के समय में इस धरा पर विराजमान थे। गुरु गोविन्द सिंह जी पूरे पहाड़ के राजाओं को यह समझाते थे कि सब मिल कर औरंगजेब का सामना करें। लेकिन, अधिकतर पहाड़ी राजा गुरु जी पर भरोसा नहीं कर पाए। दुर्भाग्य है कि ऐसे पहाड़ी राजाओं को तब महाजिहादी औरंगजेब पर अधिक भरोसा था। यही है हमारे देश की बर्बादी की जड़। हम आज भी नहीं सुधरे हैं।
हमारे सुधरने की आशा ना के बराबर है। हम आज भी विदेशियों को पूज रहे हैं। अपनों को गड्ढ़े में धकेल रहे हैं। देशघाती जयचन्द के जमाने में भी हम ऐसे ही थे। जब सिकन्दर आया था तब भी हम ऐसे ही थे।  बहरहाल, गुरु गोविन्द सिंह जी स्वयं एक अतुलनीय योद्धा थे। वे संत थे। वे बहुत बड़े कवि थे। वे भारत माता के भक्त भी थे जिसका जिक्र उनके अनुयायी कभी नहीं करते। उत्तराखण्ड की सरकार, हिमाचल प्रदेश की सरकार और केन्द्र सरकार को साधुवाद कि इन्होंने पौंटा साहब को इस तरह सम्मान दिया। गुरु गोविन्द सिंह जी को हम जितना भी सम्मान दें वह कम ही है। देहरादून से पौंटा साहब के लिए चार सड़कें एक सड़क के रूप में जब अस्तित्व में आ जाएंगी तब इस पूरे क्षेत्र की रौनक बढ़ जाएगी। पौंटा साहब के श्रद्धालु भी बढ़ेंगे। आवागमन सुविधाजनक हो जाएगा। समय के साथ-साथ ईधन की बचत भी होगी।

Check Also

गणतंत्र दिवस: मुख्यमंत्री ने ‘गणतंत्र नमन’ कार्यक्रम में किया प्रतिभाग एवं चित्र प्रदर्शनी का किया शुभारम्भ

देहरादून (सूoवि0) । मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर रेंजर्स ग्राउण्ड …