संगठित समाज ही विकास की धारा में आगे बढ़ता है : मुख्यमंत्री बघेल

-कुर्मी छात्रावास और सामाजिक भवन के लिए 20-20 लाख रुपए की घोषणा समाज के 38 प्रतिभावान बच्चे हुए सम्मानित

-मुख्यमंत्री छतौद में आयोजित छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के राज अधिवेशन में हुए शामिल

 

कुर्मी छात्रावास और सामाजिक भवन के लिए 20-20 लाख रुपए की घोषणा समाज के 38 प्रतिभावान बच्चे हुए सम्मानित

रायपुर (जनसम्पर्क विभाग)। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि संगठित समाज ही विकास की धारा में आगे बढ़ता है। उन्होंने कहा कि समाज के विकास में सबकी भागीदारी जरूरी है। सभी के एक होने से समाज में सामाजिक समरसता का विकास होगा। वे आज रायपुर जिले के तिल्दा विकासखण्ड के ग्राम छतौद में आयोजित छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के 76वें वार्षिक राज अधिवेशन को सम्बोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर नेवरा में कुर्मी छात्रावास में अतिरिक्त कक्ष निर्माण के लिए 20 लाख रुपए और तुलसी गाँव में मनवा कुर्मी समाज को आवंटित भूमि पर सामाजिक भवन के लिए 20 लाख रुपए की मंजूरी दी और समाज के 38 प्रतिभावान बच्चों को सम्मानित किया।  बघेल के छतौद पहुंचने पर तिल्दा राज इकाई प्रधान  ठाकुर राम वर्मा की अगुवाई में समाज के प्रतिनिधियों और स्व-जनों ने उनका आत्मीय स्वागत किया।

कुर्मी छात्रावास और सामाजिक भवन के लिए 20-20 लाख रुपए की घोषणा समाज के 38 प्रतिभावान बच्चे हुए सम्मानित

मुख्यमंत्री बघेल ने अधिवेशन में कहा कि समाज को आर्थिक और शैक्षणिक क्षेत्र में निरंतर वृद्धि के साथ ही बच्चों के स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देना होगा। उन्होंने बच्चों को संस्कारवान बनाने तथा लड़के और लड़कियों के बीच के अंतर मिटाने का आव्हान किया। उन्होंने समाज के युवाओं से केवल सरकारी नौकरी में ध्यान न देकर व्यवसाय और उद्योग के क्षेत्र में आगे बढ़ने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों की आर्थिक स्थिति को मजबूत करने अनेक योजनाएं संचालित की जा रही हैं, इससे उनके आर्थिक स्थिति में परिवर्तन हुआ है और इसे लगातार और मजबूत करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि भविष्य के लिए जल संरक्षण बहुत जरूरी है, इसको ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ में नरवा योजना का संचालन किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गांधी जी के ग्राम स्वराज को साकार करने की दिशा में सरकार निरंतर कार्य कर रही है। गांवों में रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए गोठानों रूरल इंडस्ट्रील्स पार्क विकसित किए जा रहे हैं, जहां ग्रामीणों को विभिन्न आर्थिक गतिविधियों से जोड़ा जा रहा है। इसी तरह गौठान में वर्मी कंपोस्ट का निर्माण किया जा रहा है। खेती-किसानी को प्रोत्साहन दिए जाने से  खेती के रकबे में लगातार वृद्धि हो रही है। वहीं इसके प्रति लोगों का रूझान भी बढ़ा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में गोधन योजना से रोजगार और आय के नए स्रोत प्रारंभ हुए हैं। जिसके पास पहले कोई रोजगार नहीं होता था, वे गोबर बेचकर लाभ कमा रहे हैं। गोधन न्याय योजना की पूरे देश में सराहना की जा रही है। गांव की परंपरा को पुनर्जीवित करने का काम सरकार द्वारा किया जा रहा है। उन्होंने समाज के लोगों से गौठान में पैरा दान करने की अपील की।

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के केंद्रीय अध्यक्ष श्री चोवा राम वर्मा, लोकसभा क्षेत्र दुर्ग के सांसद  विजय बघेल, पूर्व केंद्रीय अध्यक्ष सीताराम वर्मा, राज्यसभा सांसद श्रीमती छाया वर्मा,पूर्व विधायक श्री जनकराम वर्मा, लक्ष्मी वर्मा,रायपुर जिला पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती डोमेश्वरी वर्मा, जिला पंचायत उपाध्यक्ष  टंक राम वर्मा, तिल्दा जनपद पंचायत अध्यक्ष  सुमन नायक, धरसींवा जनपद पंचायत अध्यक्ष चंद्रकांत वर्मा, तिल्दा की जनपद सदस्य स्वाति वर्मा सहित छतौद की सरपंच श्रीमति कविता वर्मा और बड़ी संख्या में मनवा कुर्मी समाज के लोग मौजूद रहे।

Check Also

छत्तीसगढ़ के समग्र विकास के लिए निरंतर हो रहे कार्य: बघेल

-मुख्यमंत्री बघेल से अखिल भारतीय कुर्मी महासभा के प्रतिनिधि मंडल ने की सौजन्य मुलाकात रायपुर …

Leave a Reply

Your email address will not be published.