Breaking News

पिथौरागढ़:  देश का सर्वश्रेष्ठ पर्यटन गांव सरमोली , 27 को मिलेगा सम्मान आधिकारिक घोषणा करेगा

पर्यटन मंत्रालय ने सरमोली गांव को श्रेष्ठ पर्यटन गांव प्रतियोगिता में चुना है। 27 सितंबर को इसकी आधिकारिक घोषणा होगी। गांव को भी श्रेष्ठ पर्यटन गांव का पुरस्कार मिलेगा।

जल्द ही पिथौरागढ़ जिले का सरमोली गांव देश का सर्वश्रेष्ठ पर्यटन गांव घोषित किया जाएगा। पर्यटन मंत्रालय ने सरमोली गांव को श्रेष्ठ पर्यटन गांव प्रतियोगिता में चुना है। 27 सितंबर को इसकी आधिकारिक घोषणा होगी। गांव को भी श्रेष्ठ पर्यटन गांव का पुरस्कार मिलेगा। पर्यटन मंत्रालय ने ग्रामीण पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सर्वश्रेष्ठ पर्यटन गांव प्रतियोगिता शुरू की है। इस प्रतियोगिता में पिथौरागढ़ जिले के मुनस्यारी के निकट सरमोली गांव को राष्ट्रीय स्तर पर चुना गया।

795 गांवों ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से आवेदन दिए, जिसे मंत्रालय की केंद्रीय नोडल एजेंसी ग्रामीण पर्यटन और ग्रामीण होम स्टे ने आयोजित किया था। सरमोली गांव ने पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए गांव स्तर पर किए गए उल्लेखनीय कार्यों के कारण श्रेष्ठ पर्यटन गांव का पुरस्कार प्राप्त किया।

समाचार पत्रों के अनुसार, पर्यटन मंत्रालय के ग्रामीण पर्यटन भारत की नोडल अधिकारी कामाक्षी माहेश्वरी ने राज्य को पत्र लिखकर सरमोली गांव को देश का सर्वश्रेष्ठ पर्यटन गांव चुना है। पत्र में कहा गया कि 27 सितंबर को दिल्ली में होने वाले कार्यक्रम में अधिकारिक घोषणा की जाएगी। साथ ही, कार्यक्रम में पर्यटन विभाग और गांव के एक प्रतिनिधि को शामिल करने का अनुरोध किया गया था।

नैसर्गिक सुंदरता को समाहित करता है सरमोली गांव: सरमोली गांव पिथौरागढ़ जिले के मुनस्यारी के निकट है, जो अपनी पुरानी संस्कृति और प्राकृतिक सुंदरता को समेटे हुए है। ग्रामीण पर्यटन को स्वरोजगार बनाने के लिए गांव के लोगों ने पर्यावरण को बचाया है। सरमोली गांव साहसिक और ईको पर्यटन के लिए लोकप्रिय है। यहां से हर कोई हिमालय, राजरंभा, पंचाचूली, नंदा कोट और नंदा देवी की चोटियों को देख सकता है। गाँव में पर्यटकों की पहली पसंद होम स्टे है।

Check Also

संस्कृति विभाग ने लोक सांस्कृतिक दलों एवं एकल लोक गायको को मचीय प्रदर्शन के आधार पर सूचीबद्ध

देहरादून (सू0वि0)। संस्कृति विभाग, उत्तराखंड द्वारा प्रदेश के लोक सांस्कृतिक दलों एवं एकल लोक गायको …