पुलिस ने मेडिकल स्टोर और स्टेशनरी संचालकों को किया ड्रग्स के खिलाफ जागरूकता

ऋषिकेश (दीपक राणा)। वर्तमान में उत्तराखंड सरकार द्वारा संपूर्ण प्रदेश में व्यापक स्तर पर 2025 तक ’ड्रग्स फ्री देवभूमि अभियान’ चलाया जा रहा है जिसके अंतर्गत ’श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून’ महोदय द्वारा उक्त अभियान को सफल बनाने के लिए सभी राजपत्रित अधिकारियों तथा थाना प्रभारियों को समय समय पर निर्देशित किया जा रहा हैए कि अपने अपने क्षेत्रों में नशा करने वालो तथा नशे का कारोबार करने वालो को चिन्हित कर उनका प्रोफाइल तैयार करनेए अवैध नशा कारोबारियों पर प्रभावी कार्यवाही करने के साथ साथ नशा लेने वालो की अपने अपने स्तर से कांसलिंग कर उनको मुख्य धारा में लाने हेतु प्रयास करनेए तथा स्कूल कॉलेज में पढ़ने वाले बच्चों को नशे के दुष्परिणामों से विस्तार से अवगत कराकर देवभूमि को ड्रग्स फ्री बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए जा रहे हैं तथा मेडिकल स्टोर एवं स्टेशनरी संचालकों को ड्रग्स संबंधित दवाइयांध्वस्तुएं क्रय विक्रय करने हेतु गोष्टी कर आवश्यक दिशा निर्देश देने हेतु आदेशित किया गया है। जिसके अनुपालन में ’श्रीमान पुलिस अधीक्षक ग्रामीण महोदय’ के निकट पर्यवेक्षण में ’श्रीमान क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश महोदय’ के मार्गदर्शन में ’प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश’ के द्वारा कोतवाली के समस्त अधिकारी कर्मचारी गणों को आवश्यक दिशा निर्देश देकर लगातार स्कूल कॉलेज में जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा हैं एवं अन्य रूप से भी ड्रग्स के विरुद्ध जागरूकता हेतु प्रभावी कार्यवाही की जा रही है। इसी क्रम में आज दिनांक 7 सितंबर 2022 को कोतवाली ऋषिकेश में ’श्रीमान क्षेत्राधिकारी ऋषिकेश महोदय’ के द्वारा ’प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश’ की उपस्थिति में ऋषिकेश शहर के समस्त मेडिकल स्टोर एवं स्टेशनरी संचालकों के साथ एक गोष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी में मेडिकल स्टोर एवं स्टेशनरी संचालकों को ड्रग्स संबंधित दवाइयांध्फ्लूड के क्रय विक्रय संबंधी आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। सभी मेडिकल संचालकों को निर्देशित किया गया कि किसी भी व्यक्ति को बिना डॉक्टर की प्रिस्क्रिप्शन के किसी भी प्रकार की ड्रग संबंधित दवाई विक्रय नहीं करेंगे यदि कोई व्यक्ति या बालक मेडिकल स्टोर से ड्रग्स संबंधी दवाई क्रय करते समय संदेहास्पद प्रतीत होता है तो उसके संबंध में जानकारी नोट कर इसकी सूचना तत्काल पुलिस को देंगे तथा स्टेशनरी संचालकों को भी फ्लूड विक्रय करते समय सतर्कता बरतने हेतु बताया गया यदि कोई व्यक्ति फ्लूड खरीदते समय आपको संदिग्ध या नशे का आदि प्रतीत होता है तो उसके संबंध में जानकारी नोट कर पुलिस को सूचना देंगे। सूचना प्राप्त होने के पश्चात पुलिस जांच में यदि ड्रग्स संबंधित दवाइयां या फ्लूड खरीदने वाले व्यक्ति नशे के आदी पाए जाते हैं तो उनकी काउंसलिंग की जाएगी।

Check Also

नहीं रहे कॉमेडी के बादशाह राजू श्रीवास्तव

-राजू श्रीवास्तव को समर्पित की परमार्थ गंगा आरती -हमने जमीन से जुड़े एक हास्य कलाकार …